Adhura Aasman

New product

सचमुच हमारे चारों ओर की दुनिया हमसे कुछ कहती है, सजीवों और निर्जीवों से भरी इस अद्भुत प्रकृति में कई ऐसी चीजें हैं जो हमें अपनी ओर आकर्षित करती हैं। परन्तु जीवन के व्यस्त दिनचर्या में हमारे पास...

More details

In stock

By buying this product you can collect up to 12 loyalty points. Your cart will total 12 loyalty points that can be converted into a voucher of Rs. 2.40.


Rs. 128.00

-Rs. 32.00

Rs. 160.00

Add to wishlist

Secure Payment
Secure Payment

Data sheet

ISBN978-93-82422-46-4
Page99
Year2016
LanguageHindi
BindingHardcover
AuthorAnand Raj 'Reetey'

More info

सचमुच हमारे चारों ओर की दुनिया हमसे कुछ कहती है, सजीवों और निर्जीवों से भरी इस अद्भुत प्रकृति में कई ऐसी चीजें हैं जो हमें अपनी ओर आकर्षित करती हैं। परन्तु जीवन के व्यस्त दिनचर्या में हमारे पास पर्याप्त समय नहीं होता कि हम उसे सुन पायें या उससे बातें कर पायें। फिर भी कभी-कभी जाने-अनजाने में या अवकाश के क्षणों में हम उन चीजों की ओर आकर्षित हो जाते हैं। हमारी भावनाएं जुड़ जाती है और तब चाहकर भी हम उन भावनाओं को छिपा नहीं पाते। फलस्वरूप वो भावनाएं मूक बनकर चित्रा के रूप में, तो कभी वाचाल होकर कहानी अथवा कविता के रूप में उभर आती हैं।
सामान्य सी दिखने वाली चीजों को अलग नजरिए से देखना और फिर उसे अपनी भावनाओं और कल्पनाओं से जोड़कर सार्थक रुप में प्रस्तुत करना... मैंने भी ऐसा ही कुछ किया है। प्रस्तुत करते हुए कभी तुकबंदी हुई तो कभी वो सब मुक्तछंद बनकर पन्नों में सिमट गया।

कभी कुएं की रस्सी, कभी पेड़ से गिरते पत्ते।
कभी फूलों पे बैठीं तितली, कभी मधुमक्खियों के छत्ते।
कभी रेत भरा मरुथल, तो कभी नदी का किनारा।
देखा जिधर भी मैंने, सबने मुझे पुकारा।

इस संकलन में संकलित प्रत्येक कृति एक सामान्य मानवीय परिवेश से प्रेरित है। वो प्रेरणा जो किसी पहाड़ और उसके सामने की खाई को देखकर मिली या टेड़े- मेड़े रास्ते से बहती किसी नदी को देखकर। कभी आसान में उड़ते पंछियो ने उड़ान भरने के लिए प्रेरित किया तो कभी हर शहर के बीचो-बीच गुजरती सड़कों के किनारे फुटपाथ की जिंदगी ने सोचने को विवश किया।

इन सबके अलावा और भी कई चीजें हैं जिसने मेरी भावनाओं, फलतः मेरी कलम को प्रभावित किया। जैसे-जैसे आप पन्ने पलटते जाएंगे मानव जीवन के उन सारे भावों से रूबरू होते जाएंगे जिसे ‘अधूरा आसमान’ ने अपने अंदर समेट रखा है।

Reviews

Write a review

Adhura Aasman

Adhura Aasman

सचमुच हमारे चारों ओर की दुनिया हमसे कुछ कहती है, सजीवों और निर्जीवों से भरी इस अद्भुत प्रकृति में कई ऐसी चीजें हैं जो हमें अपनी ओर आकर्षित करती हैं। परन्तु जीवन के व्यस्त दिनचर्या में हमारे पास...

28 other products in the same category: